Monthly Archive: August 2017

0

रसीद ( Receipt )

“ये रसीद क्या होती है माँ ?” 8 साल के बच्चे ने माँ से पूछा। माँ ने समझाया — “जब हम किसी से कोई सामान लेते हैं या काम कराते हैं, तो वह उस...

0

आत्मिक शांति

एक बार की बात है एक किसान था उसकी घड़ी कहीं खो गयी. वैसे तो घडी कीमती नहीं थी पर किसान उससे भावनात्मक रूप से जुड़ा हुआ था और किसी भी तरह उसे वापस...

0

सच्चा दोस्त कछुआ

एक बार की बात है , सर्दियों की दोपहर में एक छोटा युवक नदी के पास नीम के पेड़ के नीचे बैठा था | वह स्कूल से वापिस आया था और उसकी पीठ पर...

0

व्यापारी और जिन्न ( एक बुढा आदमी और एक बकरी )

राहगीर ने अपनी कहानी जिन्न को सुनाना शुरू किया “ये तुम इस बकरी को मेरे साथ देख रहे हो ये मेरी बीवी है , मैं तुम्हे इसकी कहानी सुनाता हु ” मेरे विवाह को...

0

व्यापारी और जिन्न

प्राचीन समय पहले की बात है एक बहुत धनि व्यापारी था | वो अपना व्यापार करने के लिए लम्बी लम्बी यात्राये करता था | एक दिन उसे यात्रा के लिए एक विशाल रेगिस्तान से...

0

मछुआरा और जिन्न

प्राचीन समय की बात है एक बार एक बहुत गरीब मछुआरा हुआ करता था जो बड़ी कठिनई से अपने परिवार का पालन पोषण कर रहा था | उसके परिवार में उसके एक पत्नी और...