Monthly Archive: September 2017

0

गुरुजी को भोलु की चिट्ठी

आदरणीय गुरु जी, मैं भोलु हूँ, आपका पुराना छात्र. शायद आपको मेरा नाम भी याद ना हो, कोई बात नहीं, हम जैसों को कोई क्या याद रखेगा. मुझे आज आपसे कुछ कहना है सो...

0

मुसीबत का सामना करो

जंगली भैंसों का एक झुण्ड जंगल में घूम रहा था , तभी एक भैंसे के बच्चे ने पुछा , ” पिताजी, क्या इस जंगल में ऐसी कोई चीज है जिससे डरने की ज़रुरत है...

0

होशिहार लड़की

बहुत पहले की बात है, एक छोटे गाव में, किसी व्यापारी ने बदकिस्मती से एक साहूकार से बहोत ज्यादा पैसे ले रखे थे। साहूकार, जो पुराना और चिडचिडा था, वह अपने पैसो के बदले...

0

नजारिया

बहुत वर्ष पहले की बात है जूते बनाने वाली ब्रिटिश कंपनी ने अपने दो सलेसमैनो को अफ्रीका भेजा. उनकी इस यात्रा का मुख्य उद्देश्य नए बाज़ार की छान-बिन करना, और आने के बाद बाजार...

0

ज्ञान छिपा ले सब अवगुण

यूनान के सुप्रसिद्ध दार्शनिक सुकरात अपने शिष्यों से घिरे बैठे थे। तभी एक ज्योतिषी आया जो चेहरा देखकर भविष्य बताने का दावा करता था। सुकरात के विचार जितने सुन्दर होते थे उतने ही वह...

0

गुणीराम

बहुत पुराने समय की बात है। एक छोटे से गांव में एक गरीब शिल्पकार रहता था। वह मूर्तियों का निर्माण करके, उन्हें गांव गांव बेचकर अपना जीवन निर्वाह करता था। इससे वह अपने परिवार...

0

लालची भाई

प्राचीन काल की बात है। एक गांव में दो भाई रहते थे। बड़े भाई के पास बहुत सा धन था, परंतु छोटा भाई गरीब था। एक बार जब लोग नये साल कीखुशियांमना रहे थे,...

0

सड़क के मोड़

एक बार फारस के राजा ने अकबर को एक अजीब सा पत्र भेजा। इस पत्र में उसने अकबर से पूछा, ”बताइये आपके राज्य में हर सड़क में कितने मोड़ हैं?“ अकबर इस सवाल से...

0

एक गलत इच्छा

एक बार एक मधुमक्खी ने एक बरतन में शहद इकटृा किया और ईश्वर को प्रसन्न करने के लिए उनके समक्ष प्रस्तुत किया। ईश्वर उस भेंट से बहुत प्रसन्न हुए और मधुमक्खी से बोले कि...

0

मां की शिक्षा

बात उन दिनों की है जब अमेरिका में दास प्रथा चरम पर थी। एक धनाढ्य ने बेंगर नामक दास को खरीदा। बेंगर न केवल परिश्रमी था बल्कि गुणवान भी था। वह धनी व्यक्ति बेंगर...